Sidhu
  • 0
Enlightened

किसने लिखा है –‘आज दिशाएँ भी हँसती हैं है उल्लास विश्व पर छाया, मेरा खोया हुआ खिलौनाअब तक मेरे पास न आया।’

  • 0

(A) मीराबाई

(B) सुभद्रा कुमारी चौहान

(C) सहजोबाई

(D) महादेवी वर्मा

Leave an answer

You must login to add an answer.

Related Questions